IIT JEE के रिवीजन नोट्स और परीक्षा Pressure के बारे जानें श्री आनंद कुमार ने क्या कहा

इस लेख में विद्यार्थी Super 30 के फाउंडर श्री आनंद कुमार के द्वारा IITJEE की परीक्षा के लिए रिवीजन नोट्स बनाने के टिप्स के बारे में जानेंगे. इसके साथ-साथ यह भी जानेंगे कि विद्यार्थी परीक्षा के दबाव को कैसे दूर कर सकते हैं

Created On: Mar 8, 2018 10:53 IST
Modified On: Oct 17, 2018 11:45 IST
Tips by Super30’s founder Mr. Anand Kumar to prepare revision notes and deal with exam pressure
Tips by Super30’s founder Mr. Anand Kumar to prepare revision notes and deal with exam pressure

इस लेख में हम विडियो के माध्यम से Super 30 के फाउंडर श्री आनंद कुमार द्वारा जानेंगे कि विद्यार्थियों को IIT JEE की परीक्षा के लिए रिवीजन नोट्स कैसे बनाने चाहिए. इसके साथ कैसे विद्यार्थी परीक्षा के दबाव को दूर कर परीक्षा में अच्छे मार्क्स ला सकते हैं.

दिन प्रतिदिन विद्यार्थियों के बीच IITs में दाखिला लेने के लिए प्रतिस्पर्धा बढ़ती जा रही है. सभी विद्यार्थी चाहते हैं कि उनको IITs में उनकी मनपसंद ब्रांच मिले. जिसके लिए विद्यार्थी बहुत परिश्रम भी करते हैं, किंतु केवल 5% विद्यार्थी ही IITs में दाखिला लेने में सफल होते हैं. विद्यार्थियों के IIT JEE की परीक्षा में सफल होने के दो कारण हो सकते हैं.

पहला कारण IIT JEE की परीक्षा के लिए रिवीजन नोट्स नहीं बनाना हो सकता है. हम सभी जानते हैं कि किसी भी परीक्षा के लिए रिवीजन नोट्स बनाना कितना महत्वपूर्ण होता है. जब परीक्षा में केवल कुछ दिन शेष रह जाते हैं, तो विद्यार्थियों के लिए किताबों से पूरा सिलेबस पढ़ना बहुत ही मुश्किल होता है. और विद्यार्थी पूरा सिलेबस दोहरा भी नहीं पाते.

अगर विद्यार्थी IIT JEE की परीक्षा की तैयारी के दौरान रिवीजन नोट्स बना कर और परीक्षा से कुछ दिन पहले रिवीजन नोट्स पर फोकस करेंगे तो यक़ीनन परीक्षा में उनके अच्छे मार्क्स आयेंगे.

Super 30 के फाउंडर श्री आनंद कुमार जी ने बताया कि विद्यार्थियों को किसी भी टॉपिक को पढ़ने के बाद सबसे पहले उन्होंने क्या सीखा उसको रिवीजन नोट्स में लिखना चाहिए. अब उन्हें अपने नोट्स को तुलना अपने मित्रों के नोट्स से करनी चाहिए और यह जानने का प्रयास करना चाहिए कि उन्होंने ऐसा क्या है जो अपने रिवीजन नोट्स में नहीं लिखा. विद्यार्थियों अपने नोट्स कि तुलना अपने स्कूल के अध्यापकों और विभिन्न विश्वविद्यालयों के प्रोफेसर के नोट्स से करनी चाहिए जो कि उन्हें इन्टरनेट पर आसानी से मिल जाएँगे. इस तरह विद्यार्थी बहतरीन नोट्स बनाने में सफल हो जायेंगे.

अगर पूरी तैयारी करने के बाद भी विद्यार्थियों के IIT JEE की परीक्षा में अच्छे मार्क्स नहीं आते, तो इसका कारण उन पर परीक्षा का दबाव हो सकता है.

Super 30 के फाउंडर Anand Kumar से जानिये IIT JEE की तैयारी के दौरान कैसे रखें खुद को Motivate

 

Related Categories