Search

इंटर्नशिप के दौरान मिलेंगे आपको कई किस्म के लोग

जब कॉलेज स्टूडेंट्स किसी दफ्तर या कंपनी में इंटर्नशिप करने के लिए जाते हैं तो वहां उन्हें कई किस्म के लोग मिलते हैं. ऐसे में कई बार उन्हें समझ नहीं आता है कि वे इन विभिन्न किस्म के लोगों से कैसे व्यवहार करें?.....इस आर्टिकल में जानिये कुछ ऐसे ही खास किस्म के लोगों से बारे में.

Dec 31, 2019 12:23 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Types of people you'll come across at your internship
Types of people you'll come across at your internship

हमारे देश में आजकल सभी कॉलेजों में स्टूडेंट्स के कोर्स-करिकुलम में इंटर्नशिप को भी जोड़ दिया गया है ताकि कॉलेज स्टूडेंट्स को अपनी स्टडीज़ के दौरान ही कुछ प्रोफेशनल हासिल हो जाए. ऐसे में कॉलेज स्टूडेंट्स अपनी इंटर्नशिप को लेकर काफी एक्साइटेड रहते हैं लेकिन उन्हें कुछ कंफ्यूजन भी रहता है कि,  जाने इंटर्नशिप के दौरान उन्हें संबद्ध दफ्तर या कंपनी में कैसे लोग मिलेंगे? दरअसल, आपका ऑफिस में पहले दिन का अनुभव काफी अजीब हो सकता है, लेकिन जैसे – जैसे दिन बीतते जायेंगे और आप कार्यालय के वातावरण के साथ एडजस्ट होते जायेंगे तथा अपने साथी इंटर्न और अन्य पेशेवरों के साथ दोस्ती कर लेंगे तो आप ऑफिस जाने के लिए हर नए दिन की प्रतीक्षा करना शुरू कर देंगे. अंत में जब आपका उस ऑफिस को छोड़ने का दिन आएगा तो आपके साथ कई खट्टी-मीठी यादें और कई नए दोस्तों की दोस्ती होगी. आइए अब उन विभिन्न प्रकार के साथी इंटर्न्स तथा अन्य ऑफिस कलिग्स की चर्चा करते हैं जिनसे आप अपने ऑफिस या कंपनी में अपनी इंटर्नशिप के दौरान मिलेंगे:    

आपसे मेल-जोल न रखने वाले लोग

हमेशा ऐसा होता है कि ग्रुप में कोई ऐसा व्यक्ति हो जिसे ‘अदृश्य आदमी’ का उपनाम दिया जा सकता है क्योंकि आप उनको शायद ही देख सकते हैं, भले ही वे उसी टेबल पर दोपहर का भोजन कर रहे हों जिस टेबल पर आप लंच करते हों. सरल शब्दों में, कुछ लोगों के साथ संबंध बनाना आसान होता है और कुछ भूतों की तरह होते हैं और अदृश्य लोगों की तरह रहते हैं जो किसी के साथ मेल-जोल रखना पसंद नहीं करते है. वे अन्य लोगों के साथ मेल-जोल रखने से घबराते हैं. यदि आप अपनी ओर से पहल करते हैं और उन्हें ऑफिस के बाद डिनर पार्टी के लिए आमंत्रित करते हैं या किसी वीकेंड पर ऑफिस ग्रुप के साथ कहीं बाहर घूमने के लिए आमंत्रित करते हैं तो वे हमेशा कोई बहाना बना कर बचने की कोशिश करते हैं. इसे निजी तौर पर लेने की भूल न करें और अगर कुछ प्रयासों के बाद भी वे आपके साथ मेल-जोल नहीं रखना चाहते हैं तो उन्हें उनके हाल पर छोड़ दें. अगर कोई व्यक्ति एंटी-सोशल है तो यह आपकी गलती नहीं है, इशारा समझें और उनके साथ मेल-जोल बढ़ाने की कोशिश करना छोड़ दें. इसी में आपकी भलाई है.

काफी बातें करने वाले लोग

एक और तरह के व्यक्ति जिनसे आपका निश्चित रूप से पाला पडेगा, वे लोग होते हैं जो किसी भी मामले को लेकर चुप नहीं रह सकते हैं. असल में ये लोग ही होते हैं 'गपशप मोंगर्स'. कल्पना कीजिए कि दोपहर के लंच के समय आप इधर-उधर की बातें कर रहे हैं और बातचीत अचानक आपके साथी, दोस्तों  और बॉस के बारे में होने लगती है. असल में, अब आप ऑफिस गॉसिपर से बातें कर रहे हैं. इस तरह के लोगों के साथ दोस्ताना होने पर उसके अपने फायदे और नुकसान, दोनों ही होते हैं. जहां एक तरफ वे लोग आपको हमेशा ऑफिस की अलग-अलग और लेटेस्ट खबरों के बारे में बताएंगे, दूसरी ओर आप भी इन लोगों की चर्चाओं का विषय बन सकते हैं. इसलिए, इन लोगों से पूरी तरह दूरी न बनाएं, लेकिन उनके साथ अपने व्यवहार में सावधानी अवश्य बरतें.

इंटर्नशिप : अनुभव प्राप्त करने और सीखने का सर्वोत्तम अवसर

अपटूडेट पर्सनैलिटी वाले लोग

हरेक ऑफिस में ऐसा कोई न कोई व्यक्ति अवश्य होता है. अक्सर कम से कम एक लड़की तो आपके ऑफिस में अवश्य ही होगी जो हमेशा समय पर ऑफिस आती हो, समय सीमा से पहले अपना काम पूरा करती हो और चाहे कितना ही खराब मौसम हो, वह हमेशा अपटू डेट दिखती हो, उसके बाल तक जरा भी इधर-उधर नहीं होते हैं. अब यह सब तो सुनने-देखने में अच्छा ही लगता है, लेकिन फिर उसकी ऊँची एड़ी के जूते की जोरदार आवाज का जिक्र आता है. एड़ी वाले जूतों की लगातार क्लिक-क्लैक की आवाज पूरे दिन आपको परेशान करती है और उन बातों का तो जिक्र करना ही बेकार है जो बातें उसके आने से पहले ही आप उसकी ऊँची एड़ी की आवाज सुनने के साथ ही अपने आस-पास सुनते हैं.

 ‘विशेषज्ञ’ किस्म के लोग

कई बार आपका वास्ता कुछ ऐसे लोगों से पड़ता है जो  किसी भी विषय पर अपने आप को ‘विशेषज्ञ’ समझते हैं. वे छोटी से छोटी बात से लेकर सबसे जटिल बातों तक सब कुछ जानते हैं. ऐसे लोगों के साथ संबंध कायम करने से आपको नए कौशल सीखने में मदद मिलेगी. इस तरह के लोग सीनियर्स पर तुरंत प्रभाव डालते हैं, वे स्नातक होने के बाद पूर्ण कालिक नौकरी की पेशकश के साथ अपना काम शुरू करते हैं. चिंता मत करो, अगर आपको कभी-कभी ऐसा लगता है कि आपको ऐसा इंटर्नशिप क्यों मिला है. लेकिन अगर आप ऐसा ही सोचते हैं कि ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे आप नहीं जानते, तो आप अपना कॉलेज क्यों नहीं छोड़ देते और यहां पूर्णकालिक नौकरी के लिए अप्लाई करते.

कॉलेज स्टूडेंट्स अपनी इंटर्नशिप के दौरान क्या करें और क्या न करें ?

उदासीन दिखने वाले, लेकिन मौके का फायदा उठाने वाले लोग

ऐसे कम ही लोग होते हैं जो अपने रिज्यूम में विवरण देने के लिए ही केवल किसी इंटर्नशिप को पूरा करना चाहते हैं. एक अन्य स्थिति में, वे ऐसा कर रहे हैं क्योंकि यह उनके कॉलेज करिकुलम का एक अनिवार्य हिस्सा है. वे उबाऊ दिखते हैं, लेकिन बिलकुल सही समय पर अपने सबसे बेहतरीन सुझाव  पेश करते हैं, जिससे आप चकित रह जाते हैं और आप यह सोचने पर मजबूर हो जाते हैं कि, अरे! आप इंटर्नशिप में दिलचस्पी नहीं रखते हैं तो भी आप ऐसा सुझाव दे रहे हैं और सीनियर्स को प्रभावित करने की मेरी संभावना को समाप्त कर रहे हैं.

इंटर्न के रूप में पेशेवर काम के माहौल में कार्य करना स्नातक होने के बाद किसी कार्यालय में काम करने के आपके इरादे को मजबूत बनाता है. यहां तक ​​कि आप किसी संगठन को इस हद तक पसंद कर सकते हैं कि आप अपने कॉलेज की डिग्री प्राप्त होने के बाद उस संगठन में पूर्णकालिक नौकरी के लिए आवेदन करने पर विचार करने लगते हैं. अपनी इंटर्नशिप के विभिन्न स्थानों पर नए और अलग-अलग लोगों से मिलने से आप यह जान जाते हैं कि एक प्रभावी नेटवर्क कैसे बनाया जाए और आप अपने करियर में सुधार लाने और तरक्की करने के लिए नौकरी शुरू करने के बाद किस प्रकार के लोगों के साथ मिलना-जुलना पसंद करेंगे.

इंडस्ट्री बेस्ड इंटर्नशिप जरुरी है, जानिये क्यों ?

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.  

 

Related Categories

Related Stories