Search

ऐसे भारतीय खिलाड़ी जो विश्व कप टीम में होने के बावजूद एक भी मैच नहीं खेले

इंग्लैंड और वेल्स में 12 वें क्रिकेट विश्व कप का शुभारम्भ 30 मई, 2019 को हो चुका है. इस विश्व कप में 10 टीमें हिस्सा ले रहीं हैं. विश्व कप 2019 में भारत ने 15 सदस्यीय टीम भेजी है जिसमें निश्चित तौर पर कुछ खिलाड़ी ऐसे होंगे जो कि एक भी मैच ना खेल पायें. इस लेख में जागरण जोश ने ऐसे खिलाडियों की लिस्ट बनायी है जो कि भारत की विश्व कप टीम में तो शामिल हुए थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिल सका था.
May 29, 2019 12:24 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Indian Team Jersey in different ICC World Cups
Indian Team Jersey in different ICC World Cups

क्रिकेट खेलने वाले सभी खिलाड़ियों की इच्छा विश्व कप में भाग लेने की होती है. विश्व कप का आयोजन हर चार वर्ष के बाद होता है और प्रत्येक टीम में केवल 15 खिलाड़ी ही शामिल किए जाते हैं जिसके कारण कई प्रतिभावान खिलाड़ी विश्व कप टीम में चुने जाने से वंचित रह जाते हैं. लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी होते हैं जो 15 सदस्यीय टीम में शामिल होने के बावजूद एक भी मैच नहीं खेल पाते हैं.

क्रिकेट विश्व कप के विगत 11 संस्करणों में भाग लेने वाले विभिन्न देशों को मिलाकर ऐसे कई खिलाड़ी रहे हैं जो 15 सदस्यीय टीम में होने के बावजूद एक भी मैच नहीं खेल पाए.
इस लेख में हम 9 ऐसे भारतीय खिलाड़ियों एवं उनके वनडे करियर का विवरण दे रहे हैं जो क्रिकेट विश्व कप के विगत 11 संस्करणों में भाग लेने वाली किसी ना किसी टीम में शामिल होने के बावजूद एक भी मैच नहीं खेल पाए.
1. भरत रेड्डी (1979)
दाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज भरत रेड्डी 1979 में आयोजित हुए दूसरे विश्व कप में भाग लेने वाली 13 सदस्यीय भारतीय टीम में रिजर्व विकेटकीपर के रूप में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. 1978 से 1981 तक के अपने वनडे करियर में भरत रेड्डी ने 3 मैच खेले तथा कुल 11 रन बनाए. उनका उच्चतम स्कोर नाबाद 8 रन था. इसके साथ ही विकेटकीपर के रूप में उन्होंने 2 कैच भी पकड़े थे.   

bharat reddy

भारतीय क्रिकेटरों की जर्सी में ‘BCCI लोगो’ के ऊपर “तीन स्टार” क्यों बने हैं?

2. सुनील वाल्सन (1983)
दाएं हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के मध्यम गति के तेज गेंदबाज सुनील वाल्सन 1983 में आयोजित हुए तीसरे विश्व कप में भाग लेने वाली 13 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. इसके बाद सुनील वाल्सन को कभी भी भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया जिसके कारण वह कभी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच नहीं खेल पाए.
वर्ष 1977 से 1988 तक के अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर में सुनील वाल्सन ने 75 मैच खेले. वर्तमान में सुनील वाल्सन आईपीएल टीम “दिल्ली कैपिटल” के मैनेजर हैं.

sunil walson
3. अमय खुरसिया (1999)
बाएं हाथ के बल्लेबाज और दाएं हाथ के धीमी गति के गेंदबाज अमय खुरसिया 1999 में आयोजित हुए सातवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.
वर्ष 1999 से 2001 तक के अपने वनडे करियर में अमय खुरसिया ने 12 मैचों में 14.54 की औसत और 1 अर्द्धशतक की मदद से कुल 149 रन बनाए तथा उनका सर्वाधिक स्कोर 57 रन था. इसके अलावा उन्होंने अपने वनडे करियर में 3 कैच भी पकड़े थे.

amay khurasiya
4. संजय बांगड़ (2003)
दाएं हाथ के बल्लेबाज और दाएं हाथ के मध्यम गति के गेंदबाज संजय बांगड़ 2003 में आयोजित हुए आठवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.

भारतीय क्रिकेट टीम के वर्तमान बैटिंग कोच संजय बांगड़ 2002 से 2004 तक के अपने वनडे करियर में कुल 15 मैच खेले. इन 15 मैचों में उन्होंने 13.84 की औसत से 180 रन बनाए जिसमें 1 अर्द्धशतक भी शामिल था तथा उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 57 रन था. इसके अलावा संजय बांगड़ ने अपने वनडे करियर में 39 रन देकर 2 विकेट लेने के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ कुल 7 विकेट लिए तथा 2 कैच भी पकड़े थे.

sanjay bangad
5. पार्थिव पटेल (2003)
बाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल 2003 में आयोजित हुए आठवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.

वर्ष 2002 से 2011 तक के अपने वनडे करियर में पार्थिव पटेल ने कुल 38 मैच खेले हैं. इन 38 मैचों में उन्होंने 23.74 की औसत तथा 4 अर्द्धशतक की मदद से 736 रन बनाए तथा उनका सर्वाधिक स्कोर 95 रन था. इसके अलावा पार्थिव पटेल ने विकेटकीपर के रूप में 30 कैच लपके तथा 9 खिलाड़ियों को स्टम्प आउट किया.

parthiv patel
6. इरफान पठान (2007)
बाएं हाथ के बल्लेबाज तथा बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इरफान पठान 2007 में आयोजित हुए 9वें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.

मुख्य रूप से स्विंग गेंदबाज इरफान पठान ने 2004 से 2012 तक के अपने वनडे करियर में कुल 120 मैच खेले हैं. इन 120 मैचों में उन्होंने 23.39 की औसत से 1544 रन बनाए जिसमें 5 अर्द्धशतक भी शामिल थे तथा उनका सर्वाधिक स्कोर 83 रन था.
इसके अलावा इरफान पठान ने 27 रन देकर 5 विकेट के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ कुल 173 विकेट प्राप्त किए. उन्होंने अपने वनडे करियर की एक पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा दो बार किया तथा 21 कैच भी पकड़े.

irfan pathan
7. दिनेश कार्तिक (2007)
दिनेश कार्तिक को वर्तमान विश्व कप 2019 टीम में भी शामिल किया गया है. कार्तिक को 2007 के विश्व कप में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था. इस विश्व कप में शामिल होने से पहले कार्तिक ने अपने एक दिवसीय क्रिकेट करियर में 91 मैच खेले हैं जिनमें उसने 31.04 की औसत से 1738 रन बनाये हैं. दिनेश कार्तिक ने 9 अर्द्ध शतक लगाये हैं लेकिन नीचे के क्रम में बल्लेबाजी करने के लिए आने के कारण वे शतक लगाने में कामयाब नहीं हो सके हैं. देखते हैं कि इस बार के विश्व कप में कार्तिक को खेलने का मौका मिल पाता है या नहीं.

dinesh kartik
8. अंबाती रायडू (2015)
दाएं हाथ के मध्यक्रम के बल्लेबाज अंबाती रायडू 2015 में आयोजित हुए ग्यारहवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. अंबाती रायडू 2019  विश्वकप टीम में चुने जाने के प्रबल दावेदार थे लेकिन अंतिम समय में उनके स्थान पर विजय शंकर को चुना गया.

वर्ष 2013 से 2019 तक के अपने वनडे करियर में अंबाती रायडू ने कुल 55 मैच खेले हैं. इन 55 मैचों में उन्होंने 47.06 की शानदार औसत से 1694 रन बनाए हैं जिसमें 3 शतक तथा 10 अर्द्धशतक भी शामिल है तथा उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 124 रन है. इसके अलावा अंबाती रायडू ने अपने वनडे करियर में 3 विकेट तथा 14 कैच भी पकड़े हैं.

ambati rayadu
9. अक्षर पटेल (2015)
बाएं हाथ के बल्लेबाज तथा बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल 2015 में आयोजित हुए ग्यारहवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.

मुख्य रूप से स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल ने 2014 से 2017 तक के अपने वनडे करियर में कुल 38 मैच खेले हैं. इन 38 मैचों में उन्होंने 34 रन देकर 3 विकेट के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ कुल 45 विकेट प्राप्त किए हैं. इसके अलावा अक्षर पटेल ने 12.92 की औसत से 181 रन बनाए हैं तथा उनका सर्वाधिक स्कोर 38 रन है. अक्षर पटेल ने अपने वनडे करियर में 15 कैच भी पकड़ें हैं.

axar patel
10. स्टुअर्ट बिन्नी (2015)
दाएं हाथ के बल्लेबाज तथा दाएं हाथ के मध्यम गति के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट बिन्नी 2015 में आयोजित हुए ग्यारहवें विश्व कप में भाग लेने वाली 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.
मुख्य रूप से आउलराउंडर स्टुअर्ट बिन्नी ने 2014 से 2015 तक के अपने वनडे करियर में स्टुअर्ट बिन्नी ने कुल 14 मैच खेले हैं. इन 14 मैचों में उन्होंने 28.75 की औसत से 230 रन बनाए जिसमें 1 अर्द्धशतक भी शामिल था तथा उनका सर्वाधिक स्कोर 77 रन था. इसके अलावा स्टुअर्ट बिन्नी ने 4 रन देकर 6 विकेट के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ कुल 20 विकेट भी प्राप्त किए हैं. उन्होंने अपने वनडे करियर में पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा एक बार किया तथा 3 कैच भी पकड़े.

stuart binni

ऊपर दिए गए खिलाडियों की लिस्ट यह बताती है कि भारत की प्लेयिंग एलेवेन में शामिल होना भी अपने आप में स्वाभिमान लेकिन संयोग की बात है. कौन सा खिलाड़ी किस टीम के खिलाफ खेलेगा यह टीम की जरूरत, पिच का मिजाज, विपक्षी टीम और टीम मैनेजमेंट पर निर्भर करता है. उम्मीद है कि भारत की क्रिकेट टीम विश्व कप 2019 में बढ़िया प्रदर्शन कर विश्व कप को जीत कर आएगी.

निखिलेश मिश्रा (लेखक)
(गुड्स गार्ड, अलीपुरद्वार जंक्शन, पश्चिम बंगाल)

(लेखक भारतीय रेलवे में गुड्स गार्ड के पद पर कार्यरत हैं तथा क्रिकेट से संबंधित आंकड़ों के विश्लेषण में रूचि रखते हैं)


ICC क्रिकेट विश्व कप 2019 में कौन-कौन से नए नियम लागू होंगे?

क्रिकेट विश्व कप में “मैन ऑफ द टूर्नामेंट” और “मैन ऑफ द मैच” पुरस्कार विजेताओं की सूची