Jagran Josh Logo

2018 में उद्योग जगत में करियर में ग्रोथ की संभावनाएं तथा हायरिंग ट्रेंड्स

Apr 2, 2018 12:25 IST
  • Read in English
Industry wise career prospects and hiring trends
Industry wise career prospects and hiring trends

पिछले साल के रुझान के विपरीत, इस साल नौकरी की संभावनाएं और वेतन विभिन्न उद्योगों में 10% तक बढ़ने की उम्मीद है. ग्लोबल कंसल्टिंग कंपनी मर्सर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कम्पनियां 2018 में अपने व्यापार को बढ़ावा देने के लिए अपने कर्मचारी बढ़ाने के लिए तैयार हैं. नयी नौकरियों में भर्ती के दृष्टिकोण से, उच्च शैक्षिक क्षेत्र को मार्केट की इस मांग को पूरा करने के लिए छात्रों को अच्छी गुणवत्तापूर्ण  शिक्षा प्रदान करनी होगी.

आइए, हम हर एक उद्योग को बारी-बारी  से देखते हैं और यह भी देखते हैं कि 2018 में इन क्षेत्रों में विकास की क्या संभावना है?

 विनिर्माण उद्योग – बदलते कॉर्पोरेट परिदृश्य का उद्योग

मुख्य परिवर्तन

 आधुनिक उद्योगों जैसे कि शेयर्ड मोबिलिटी, ड्राइवरहीन कार, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रोबोटिक्स  में प्रगति के साथ-साथ  हमारे काम करने के तरीके बदल रहे हैं. ऐसे में, कर्मचारियों को नियमित रूप से अपने उद्योग के रुझान में आये बदलाव से अपडेट रहने की जरूरत है.

 करियर के लक्ष्य

विनिर्माण उद्योग में कौशल प्राप्त करने के लिए आपको बाहर से अन्दर की ओर सोचने वाले  दृष्टिकोण का पालन करना चाहिए और कभी भी बदलते उद्योग-परिदृश्य से सीखने के लिए तैयार रहना चाहिए. कर्मचारियों को मौजूदा उद्योग में व्याप्त अवरोधों और अनुसंधान में होने वाले विकास पर ध्यान देने की जरूरत है. इसके अलावा, डिजिटल नॉलेज में  एडवांस्ड प्रमाणपत्र प्राप्त करने की कोशिश करनी चाहिए.

 दूरसंचार - नए अवसरों का क्षेत्र

मुख्य परिवर्तन

 ग्राहकों की कंज्यूम करने की  व्यवहार पद्धति बदल रही है. इसलिए दूरसंचार उद्योग एक महत्वपूर्ण बदलाव देख रहा है, जिससे करियर के अवसरों के मौके बढ़ गए है. उद्योग अब सेवा के नए मॉडल ग्राहक की पहुंच तक लाने की दिशा में काम कर रहे हैं, जिससे नए कौशल सीखने की मांग में वृद्धि हुई है.

करियर के लक्ष्य

दूरसंचार क्षेत्र  एनालिटिक्स, बिग डेटा, क्लाउड और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्षेत्र से बड़ी मात्रा में प्रतिभाओं  को आकर्षित करेगा. इसलिए, भविष्य में जरूरी तकनीकी के कौशल में निपुणता हासिल करने वाले कर्मचारी आने वाले समय में इस क्षेत्र में आगे बढ़ेंगे. इस बीच, ग्रामीण इलाकों में लोग डाटा खपत के परंपरागत तरीकों का इस्तेमाल करना ही जारी रखेंगे.

प्रौद्योगिकी – एक निरंतर परिवर्तित होती दुनिया

मुख्य परिवर्तन:

अब से प्रौद्योगिकी क्षेत्र उद्योग जगत के सबसे रिस्की उद्योगों में जाना जायेगा. इसमें सीखने की तत्परता और ज्ञान की ललक की हमेशा जरूरत रहेगी. इसका कारण यह है कि प्रौद्योगिकी क्षेत्र बदलते परिदृश्य का क्षेत्र है और कर्मचारियों को इस डोमेन में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए क्रॉस-स्किलिंग पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए.

करियर  के लक्ष्य

 बाजार के रुझान के मुताबिक नई प्रौद्योगिकियों को जानने के लिए कर्मचारियों को दिमाग से खुला होना चाहिए और सामाजिक और डिजिटल मीडिया जैसे बढ़ते उद्योगों में कार्यात्मक ज्ञान प्राप्त करना चाहिए. इसके अलावा, कर्मचारियों को नई प्रौद्योगिकियों को सीखने और तकनीक के क्षेत्र से ज्यादा में गहराई से ज्ञान प्राप्त करने में तत्परता दिखानी चाहिए. मशीन लर्निंग पर अच्छी इन्साइट विकसित करने के अलाव एआई के डोमेन में अच्छे कौशल भी विकसित करने चाहिए.

 एफएमसीजी – ऐसा क्षेत्र जो तत्परता की मांग करता है.

मुख्य परिवर्तन

यह क्षेत्र तेजी से बदल रहा है और इसके साथ कर्मचारियों की बदलने की गति को बढ़ाने के लिए यह उद्योग कर्मचारियों से चपलता की मांग करता है.  इस क्षेत्र के कर्मचारियों को क्रॉस-फंक्शनल स्किल्स के साथ साथ मुख्य बिन्दुवों में विशेषज्ञता हासिल करने की जरूरत पड़ेगी.

करियर के लक्ष्य

 स्व-मूल्यांकन करना तथा  उद्देश्य का सेंस होना ऐसे महत्वपूर्ण कौशल हैं जो इस डोमेन में सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक हैं. इसके अलावा, कर्मचारियों को अपने करियर को इस तरह से प्लान करना होगा कि यह सुनिश्चित हो जाये कि उनके काम के लक्ष्य उनके करियर के लक्ष्य के साथ जुड़े हों.

 फार्मास्युटिकल उद्योग - क्षेत्र जो पुनर्निर्माण की मांग करता है

महत्वपूर्ण परिवर्तन

 बहुत से नियामक परिवर्तनों के साथ-साथ, फार्मा उद्योग बदलाव के दौर से गुजरने के लिए बाध्य है. हाल ही के समय में यूएसएफडीए द्वारा निरीक्षण में यह पाया गया कि कर्मचारियों को इस क्षेत्र में काम करते समय अनुपालन और अंतरराष्ट्रीय स्तर की गुणवत्ता का अभ्यास करने की आवश्यकता है.

करियर  के लक्ष्यइस क्षेत्र के कर्मचारियों को आधुनिक अनुसन्धान से सम्बंधित उपकरणों और डिजिटल डेटा विश्लेषिकी के साथ अपडेट रहने की जरूरत है. इस क्षेत्र में सफल करियर बनाने के लिए अनुसंधान और विकास पर ध्यान केंद्रित करना और अच्छी गुणवत्ता की मानसिकता का विकास  करना बहुत जरूरी है.

बैंकिंग और फाइनेंस क्षेत्र - ग्राहकों के साथ डिजिटल इंटरैक्शन की आवश्यकता

मुख्य परिवर्तन

 डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र में परिवर्तन ने भारत में बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र का चेहरा बदल दिया है. अब, ग्राहकों की संतुष्टि पर ध्यान नहीं दिया जाता है बल्कि ध्यान ग्राहक के आनंद  पर होता है.  आजकल एक बार में विभिन्न प्रणालियों के साथ सहयोग करना तथा  ग्राहक सेवा के लिए तेजी से रणनीति प्रदान करने की आवश्यकता है.

करियर  के लक्ष्य

 बैंकिंग और फाइनेंस क्षेत्र में काम कर रहे कर्मचारियों को बदलते डिजिटल और टेक्नीकल इको सिस्टम तकनीकी पारिस्थितिक तंत्र के साथ अपने अनुभवात्मक ज्ञान और कौशल सेट को सुदृढ़ करने की आवश्यकता है.

पिछले साल के रुझान के विपरीत, इस साल नौकरी की संभावनाएं और वेतन विभिन्न उद्योगों में 10% तक बढ़ने की उम्मीद है. ग्लोबल कंसल्टिंग कंपनी मर्सर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कम्पनियां 2018 में अपने व्यापार को बढ़ावा देने के लिए अपने कर्मचारी बढ़ाने के लिए तैयार हैं. नयी नौकरियों में भर्ती के दृष्टिकोण से, उच्च शैक्षिक क्षेत्र को मार्केट की इस मांग को पूरा करने के लिए छात्रों को अच्छी गुणवत्तापूर्ण  शिक्षा प्रदान करनी होगी.

आइए, हम हर एक उद्योग को बारी-बारी  से देखते हैं और यह भी देखते हैं कि 2018 में इन क्षेत्रों में विकास की क्या संभावना है?

 

 

Commented

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
      ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Newsletter Signup
    Follow us on
    X

    Register to view Complete PDF