Jagran Josh Logo

जानें IAS अधिकारी की नई सैलेरी

Feb 12, 2018 16:59 IST
  • Read in English
Salary of An IAS Officer after 7th Pay Commission
Salary of An IAS Officer after 7th Pay Commission

निसंदेह, एक IAS अधिकारी बनना किसी बड़े सपने के सच होने जैसा है. आखिर हो भी क्यों नहीं, किसी भी सरकारी नौकरी की बात अगर की जाये, तो यह न केवल सर्वोच्च और सबसे प्रतिष्ठित नौकरी है, बल्कि यह भारतीय प्रशासनिक सेवा के क्षेत्र में एक उत्कृष्ट भारतीय ब्यूरोक्रेटिक सेटअप है जो कुछ अलग करने के लिए पर्याप्त अधिकार के साथ ही शक्ति भी प्रदान करती है.

विभिन्न अधिकार और तमाम शक्तियों के बावजूद  कई लोगों का यह मानना है कि IAS अधिकारियों को निजी क्षेत्र के व्यापार प्रबंधकों की तुलना में भुगतान जो मिलती है वो पर्याप्त नहीं है. हो सकता है कि यह पारंपरिक रूप से सच हो, लेकिन अगर आप 6 ठे वेतन आयोग की सिफारिशों पर ध्यान देंगे तो पाएंगे की IAS अधिकारीयों के वेतन में भी भारी वृद्धि हुई है. वेतन में यह बढ़ोतरी 7 वें वेतन आयोग से सिफारिशों में भी परिलक्षित होती है.

अजीत डोभाल से जुड़े 16 रोचक तथ्य

वेतन में पर्याप्त सुधारों के बावजूद सच्चाई यही है कि एक IAS अधिकारी का वेतन वास्तव में निजी क्षेत्र में पेशकश की जा रही वेतन के साथ कोई सामंजस्य नहीं रखता है, लेकिन यहां पर एक सवाल सहज ही पैदा होता है कि क्या लोग IAS सिर्फ पैसा बनाने के लिए बनते है? असलियत तो यह है कि किसी भी IAS अधिकारी को वेतन से परे जिस प्रकार के विभिन्न भत्तें और अन्य लाभ प्रदान की जाती है, वह किसी निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए सिर्फ सपना ही हो सकता है. और यह तथ्य काफी है इसे साबित करने के लिए कि एक IAS अधिकारी अपने सार्थक प्रयासों और लगाए गए समय की कीमतों के अनुरूप ही सबकुछ पाता है.

वैसे उत्सुक और जागरूक पाठक जो 7 वें  वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद एक IAS अधिकारी के वेतन के बारे में विस्तृत जानकारी पाना चाहते है वे निम्न टेबल को देख सकते है.

नौकरी के साथ IAS की तैयारी कैसे करें ?


   6ठा पे कमीशन

7 वां पे कमीशन


ग्रेड  

पे स्केल

ग्रेड पे

पे स्केल

ग्रेड पे

वांछित सेवा काल का वर्ष

पद

जूनियर स्केल

15,600 - 39,100

5,400

50,000 - 1,50,000

16,500

NA

सब डिविजनल मजिस्ट्रेट  (एसडीएम), एसडीओ या सब कलेक्टर (2 साल प्रोबेशन के बाद)

सीनियर टाइम स्केल

15,600 - 39,100

6,600

50,000 - 1,50,001

20,000

5 years

डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (डीएम) या कलेक्टर या सरकारी मंत्रालयों का जॉइंट सेक्रेटरी  

जूनियर एडमिनिस्ट्रेटिव

ग्रेड 

15,600 - 39,100

7,600

50,000 - 1,50,002

23,000

9 years

स्पेशल सेक्रेटरी या विभिन्न सरकारी विभागों का प्रमुख

सेलेक्शन ग्रेड

37,400 - 67,000

8,700

1,00,000 - 2,00,000

26,000

12 to 15  years

मंत्रालय का सचिव

सुपर टाइम स्केल

37,400 - 67,000

10,000

1,00,000 - 2,00,000

30,000

17 to 20 years

किसी प्रमुख सरकारी विभाग का प्रमुख मुख्य सचिव 

सुपर टाइम स्केल से उपर

37,400 - 67,000

12,000

1,00,000 - 2,00,000

30,000

अलग-अलग

अलग-अलग

सर्वोच्च स्केल

80,000 (fixed)

NA

2,40,000 (Fixed)

NA

अलग-अलग

राज्य के प्रमुख सचिव, भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों का केंद्रीय सचिव  

कैबिनेट सेक्रेटरी ग्रेड

90,000 (fixed)

NA

2,70,000 (Fixed)

NA

अलग-अलग

कैबिनेट सेक्रेटरी ऑफ इंडिया

IAS ग्रेड और वेतनमान

कहने की जरुरत नहीं की पूरी नौकरशाही में सबसे अच्छा भुगतान पाने वालों में केंद्र सरकार के कर्मचारी हमेशा टॉप पर आते हैं और IAS अधिकारी इस व्यवस्था के शीर्ष पर होता है. हालांकि 7 वें वेतन आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकारी कर्मचारियों को उनके स्टेटस और संबद्ध वेतनमान के अनुसार ही भुगतान किया जाता है, सच तो यही है कि कर्मचारियों के लिए सरकारी वेतनमान कोई अंतिम सीमा नहीं है, बल्कि यह विशेष ग्रेड के अधिकारी के लिए अधिकतम और न्यूनतम वेतन प्रस्ताव को दर्शाता है. हमें यह समझना चाहिए कि एक पे-स्केल के अतिरिक्त ग्रेड पे, डीए, एचआरडी और मिलने वाले अन्य  भत्ते और कई अन्य लाभ भी अलग से शामिल होते है.

IAS उम्मीदवार से IAS अधिकारी बनने का सफर

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
X

Register to view Complete PDF