Search

चालुक्य राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

वातापि या बादामी का चालुक्य वंश और कल्याणी का चालुक्य वंश दक्षिण भारत का महत्वपूर्ण राजवंश है। इसके शासको ने रायचूर दोआब के मध्य (कृष्णा और तुंगभद्रा नदियों के बीच स्थित है) में शासन किया था। इस लेख में हमने चालुक्य राजवंश पर आधारित 10 सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।
Sep 4, 2018 17:48 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
GK Questions and Answers on the Chalukya Dynasty HN
GK Questions and Answers on the Chalukya Dynasty HN

वातापि या बादामी का चालुक्य वंश और कल्याणी का चालुक्य वंश दक्षिण भारत का महत्वपूर्ण राजवंश है। इसके शासको ने रायचूर दोआब के मध्य (कृष्णा और तुंगभद्रा नदियों के बीच स्थित है) में शासन किया था। यह व्यापार का एक महत्वपूर्ण केंद्र था और बाद में एक धार्मिक केन्द्र के रूप में विकसित हुआ था, इसके आस - पास मंदिरों की संख्या अधिक थी।

1. निम्नलिखित में से कौन बदामी के चालुक्य राजवंश का संस्थापक था?

A. पुलकेशी प्रथम

B. किर्तिवर्मन प्रथम

C. मंगलेषा

D. पुलकेशिन द्वितीय

Ans: A

व्याख्या: चालुक्य प्राचीन भारत का एक प्रसिद्ध क्षत्रिय राजवंश है। पुलकेशिन प्रथम ने बदामी के चालुक्य राजवंश की स्थापना की थी। इसलिए, A सही विकल्प है।

2. शिलालेखों में सत्यश्री, वल्लभा और धर्मममहाराज के रूप में किसका उल्लेख मिलता है?

A. पुलकेशिन द्वितीय

B. पुलकेशी प्रथम

C. विक्रमादित्य प्रथम

D. विनयादित्य

Ans: B

व्याख्या: पुलकेशी प्रथम, चालुक्य नरेश रणराग का पुत्र था। इसने 'रण विक्रम', 'सत्याश्रय', 'धर्म महाराज', 'पृथ्वीवल्लभराज' तथा 'राजसिंह' आदि की उपाधियाँ धारण की थीं। इसलिए, B सही विकल्प है।

भारतीय इतिहास के ऐतिहासिक घटनाओं पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

 3. स्वर्ण सिक्का जारी करने वाला दक्षिण भारत में पहला शासक कौन था?

A. पुलकेशी द्वितीय

B. पुलकेशी प्रथम

C. विक्रमादित्य प्रथम

D. विनयादित्य

Ans: A

व्याख्या: पुलकेशी द्वितीय, पुलकेशी प्रथम का पौत्र तथा चालुक्य वंश का चौथा राजा था। वह महाराजाधिराज हर्षवर्धन का समसामयिक तथा प्रतिद्वन्द्वी था। वह दक्षिण भारत में पहला शासक था जिसने स्वर्ण सिक्के जारी किये थे। इसलिए, A सही विकल्प है।

4. निम्नलिखित में से किस अभिलेख से ये पता चलता है की चालुक्यों के सामंत दंतिदुर्ग (राष्टकूट) ने किर्तिवर्मन द्वितीय को पराजित किया था?

A. समनगढ़ अभिलेख

B. नरवण अभिलेख

C. केन्दूर अभिलेख

D. वक्रकलेरि अभिलेख

Ans: A

व्याख्या: समनगढ़ अभिलेख के अनुसार चालुक्यों के सामंत दंतिदुर्ग (राष्टकूट) ने किर्तिवर्मन द्वितीय को पराजित किया था। इसलिए, A सही विकल्प है।

प्राचीन भारत की क्षत्रप प्रणाली पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

5. निम्नलिखित में से किस चालुक्य शासक के शासन में प्रसिद्ध विरुपक्ष मंदिर (लोकेश्वर मंदिर) और मल्लिकार्जुन मंदिर बनाया गया था?

A. विक्रमादित्य प्रथम

B. विनयादित्य

C. विक्रमादित्य विजयादित्य

D. विक्रमादित्य द्वितीय

Ans: D

व्याख्या: विक्रमादित्य द्वितीय, विजयादित्य का पुत्र और राजसिंहासन का उत्तराधिकारी था। 'नरवण', 'केन्दूर', 'वक्रकलेरि' एवं 'विक्रमादित्य' की रानी 'लोक महादेवी' के 'पट्टदकल' अभिलेख के अनुसार इसने पल्लव नरेश नंदि वर्मन द्वितीय को पराजित किया था। इसी के शासनकाल में प्रसिद्ध विरुपक्ष मंदिर (लोकेश्वर मंदिर) और मल्लिकार्जुन मंदिर बनाया गया था। इसलिए, D सही विकल्प है।

6. निम्नलिखित में से कौन बादामी के चालुक्य राजवंश का अंतिम शासक था?

A. किर्तिवर्मन द्वितीय

B. विक्रमादित्य द्वितीय

C. विजयादित्य

D. विनयादित्य

Ans: A

व्याख्या: किर्तिवर्मन द्वितीय,विक्रमादित्य द्वितीय का पुत्र एवं उत्तराधिकारी था जिसको रहप्पा के नाम से भी जाना जाता था। यह बादामी के चालुक्य शासकों की शृंखला का अंतिम शासक था। इसलिए, A सही विकल्प है।

सतवाहन राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

7. निम्नलिखित में से किस चालुक शासक के शासनकाल में महाभारत का तमिल अनुवाद हुआ था?

A. राजाराज नरेन्द्र  

B. विमलादित्य

C. शक्तिवर्मन प्रथम

D. अच्चण द्वितीय

Ans: A

व्याख्या: राजाराज नरेन्द्र के शासनकाल में महाभारत का तमिल अनुवाद हुआ था। इसलिए, A सही विकल्प है।

8. निम्नलिखित कथनों पर विचार करें।

I. इसका गुरु विमलचन्द्र जैन दर्शन का महान् विद्धान था।

II. तैलप द्वितीय की मृत्यु के बाद उसका उत्तराधिकारी बना।

उपरोक्त में से कौन सा कथन सत्याश्रय के सन्दर्भ में सही है?

A. Only I

B. Only II

C. Both I and II

D. Neither I nor II

Ans: C

व्याख्या: सत्याश्रय, तैलप द्वितीय की मृत्यु के बाद उसका उत्तराधिकारी बना। उसे 'सत्तिग' अथवा 'सत्तिम' नाम से भी सम्बोधित किया जाता था।  गुरु विमलचन्द्र जैन दर्शन का महान् विद्धान और इसके गुरु थे। यह विद्धानों का संरक्षक भी था। कन्नड़ कवि गदायुद्ध को इसका संरक्षण प्राप्त था। इसलिए, C सही विकल्प है।

पाण्ड्य राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

 9. निम्नलिखित में से किसने संस्कृत विश्वकोषीय पाठ मनसोलासा की रचना की थी?  

A. सोमेश्वर प्रथम

B. सोमेश्वर द्वितीय

C. विक्रमादित्य छठा

D. सोमेश्वर तृतीय

Ans: D

व्याख्या: सोमेश्वर तृतीय ने संस्कृत विश्वकोषीय पाठ मनसोलासा की रचना की थी जिसमे राजनीति, शासन, खगोल विज्ञान, ज्योतिष, उदारता, दवा, भोजन, वास्तुकला, चित्रकला, कविता और संगीत जैसे विषयों पर व्याख्या की गयी है। इसलिए, D सही विकल्प है।

10. निम्नलिखित में से किस कल्याणी के चालुक्य राजा ने कन्नड़ व्याकरणिक नागवर्मा द्वितीय को संरक्षण दिया था जिन्होंने कवितावलोकाना, कर्नाटक भाषणभूषण और संगीत पर संस्कृत संगठचुदमानी लिखा था?

A. तैलापा द्वितीय

B. सत्यश्रय

C. जगढ़ेकामल्ला द्वितीय

D. विक्रमादित्य पांचवां

Ans: C

व्याख्या: जगढ़ेकामल्ला द्वितीय एक कल्याणी के चालुक्य राजा था जिसने कन्नड़ व्याकरणिक नागवर्मा द्वितीय को संरक्षण दिया था जिन्होंने कवितावलोकाना, कर्नाटक भाषणभूषण और संगीत पर संस्कृत संगठचुदमानी लिखा था। इसलिए, C सही विकल्प है।

1000+ भारतीय इतिहास पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी