Search

ICC World Cup 1983: जानिये भारत कैसे बना था विश्व चैंपियन

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के तीसरे टूर्नामेंट का आयोजन 9 से 25 जून 1983 तक इंग्लैंड और वेल्स में खेला गया था. इसमें 8 टीमों ने भाग लिया था और इसे भारत ने वेस्टइंडीज के हराकर जीता था. आज 25 जून 2020 को भारत अपनई इस शानदार उपलब्धि के 37 वर्ष माना रहा है. आइये इस लेख में जानते हैं कि भारत ने कैसा विश्व विश्व चैंपियन का ख़िताब हासिल किया था.
Jun 25, 2020 16:07 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Former Indian Captain Kapil Dev receiving ICC World Cup Trophy
Former Indian Captain Kapil Dev receiving ICC World Cup Trophy

अब तक 12 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप टूर्नामेंट हो चुके हैं. ऑस्ट्रेलिया सबसे सफल देश है जिसने 5 विश्व कप जीते हैं. इसके बाद भारत और वेस्ट इंडीज केवल दो देश हैं जिन्होंने 2 बार विश्व कप जीता है. भारत ने सबसे पहला आईसीसी क्रिकेट विश्व कप आज से 37 साल पहले 25 जून 1983  को वेस्ट इंडीज को हराकर जीता था. भारत इस महान उपलब्धि की 25 जून को 37वीं वर्ष गाँठ माना रहा है.

आइये इस लेख में जानते हैं कि भारत की इस जीत में कौन कौन हीरो शामिल थे और दोनों टीमों ने कितना स्कोर बनाया था और दोनों टीमों में कौन कौन से खिलाडियों ने फाइनल मैच खेला था?

दरअसल भारत के लिए इस टूर्नामेंट को जीतना बहुत बड़ी उपलब्धि मानी जाती हैं क्योंकि उस समय वेस्ट इंडीज की टीम पूरे विश्व में सबसे उत्तम टीम मानी जाती थी इससे पहले वह लगातार 2 बार विश्व कप का ख़िताब जीत चुकी थी.

क्रिकेट विश्व कप 1983 के बारे में कुछ तथ्य:-

1. उस समय मैच 60 ओवरों का खेला जाता था.

2. इस विश्व कप में कुल 8 टीमों ने हिस्सा लिया था.

3. इसमें कुल 27 मैच खेले गये थे.

4. पूरे टूर्नामेंट में सबसे अधिक विकेट 18 भारत के रोजर बिन्नी ने लिए थे.

5. पूरे टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन 384 इंग्लैंड के डेविड गोवर ने बनाये थे.

6. मोहिंदर अमरनाथ को फाइनल मैच में 'मैन ऑफ़ दा मैच' चुना गया था.

7. फाइनल मैच लॉर्ड्स के मैदान पर खेला गया था.

8. भारत ने 183 रन का लक्ष्य वेस्ट इंडीज को दिया था लेकिन वह केवल 140 रनों पर ढेर हो गयी और भारत ने फाइनल मैच 43 रनों से जीत लिया था.

भारत की 1983 की फाइनल में खेलने वाली थीम इस प्रकार थी:- (Indian Team in Cricket World Cup 1983 Final)

1. सुनील गावस्कर

2. कृष्णमचारी श्रीकांत

3. मोहिंदर अमरनाथ

4. यशपाल शर्मा 

5. कपिल देव

6. कीर्ति आज़ाद

7. रोजर बिन्नी

8. संदीप पाटिल

9. मदन लाल

10. सैयद किरमानी

11. बलविंदर संधू

विश्व कप फाइनल 1983 में वेस्टइंडीज की टीम (West Team in Cricket World Cup 1983 Final)

1.  क्लाइव लॉयड (c)

2. डेसमंड हेन्स

3. विव रिचर्ड्स

4. गॉर्डन ग्रीनिज

5. लैरी गोम्स

6. फौद बाकस

7. जेफ डुजॉन (wk)

8. माइकल होल्डिंग

9. एंडी रॉबर्ट्स

10. जोएल गार्नर

11.  मैल्कम मार्शल

विश्व कप 1983 फाइनल मैच स्कोरकार्ड (World Cup 1983 final match scorecard)

भारतीय टीम का स्कोर इस प्रकार है:- (Indian Team score card World Cup final 1983)

खिलाडी

रन

बॉल

सुनील गावस्कर

2

20

कृष्णमाचारी श्रीकांत

38

57

मोहिंदर अमरनाथ

26

80

यशपाल शर्मा

11

32

संदीप पाटिल

27

29

एन कपिल देव (c)

15

8

कीर्ति आज़ाद

0

3

रोजर बिन्नी

2

8

मदन लाल

17

27

सैयद किरमानी (wk)

14

43

बलविंदर संधू

11

30

इस प्रकार भारत की ओर से सबसे अधिक रन 38 रन कृष्णमाचारी श्रीकांत ने बनाये थे इसके बाद सबसे अधिक रन संदीप पाटिल ने 27 और मोहिंदर अमरनाथ ने 26 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी. कपिल देव ने तेज 15 रन बनाये थे.

इस प्रकार भारत ने 54.4 ओवर में 20 अतिरिक्त रनों की मदद से वेस्टइंडीज को जीत के लिए केवल 184 रनों का लक्ष्य दिया था. यह लक्ष्य उस समय की वेस्ट इंडीज टीम को देखते हुए बहुत ही छोटा था. लेकिन इतिहास को कुछ और ही लिखना था.

वेस्टइंडीज टीम का स्कोर इस प्रकार है:- (Indian Team score card World Cup final 1983)

खिलाडी

रन

बॉल

गॉर्डन ग्रीनिज

1

12

डेसमंड हेन्स

13

33

विव रिचर्ड्स

33

28

क्लाइव लॉयड (c)

8

17

लैरी गोम्स

5

16

फौद बाकस

8

25

जेफ डुजॉन (wk)

25

73

मैल्कम मार्शल

18

51

एंडी रॉबर्ट्स

4

14

जोएल गार्नर

5

19

माइकल होल्डिंग

6

24

टोटल 

140 (आल आउट)

52 ओवेर्स

इस प्रकार विश्व विजेता मानी माने वाली वेस्टइंडीज टीम केवल 140 रनों पर ढेर हो गयी और क्रिकेट की दुनिया में भारत के रूप से दूसरा नया विश्व चैंपियन मिला. भारतीय टीम का यह पहला विश्व कप था. भारत 25 जून 2020 को अपनी इस शानदार जीत के 37 वर्ष पूरे कर चुका है.

भारत की ओर से मदन लाल और मोहिंदर अमरनाथ ने 3-3 विकेट लिए था जबकि बलविंदर संधू को 2 और कपिल देव और रोजर बिन्नी को एक एक विकेट मिला था.विव रिचर्ड्स का अहम् विकेट मदन लाल ने लिया था जिन्हें कपिल देव ने कैच किया था.

इस विश्व कप ख़िताब के साथ ही भारत में क्रिकेट बहुत पॉपुलर हो गया और अब भारत में इसकी लोकप्रियता इतनी अधिक बढ़ गयी है कि भारत का हर बच्चा बड़ा होकर सिर्फ क्रिकेट खेलना चाहता कोई और खेल नहीं.


ICC क्रिकेट विश्व कप के विजेताओं और उपविजेताओं की सूची

क्रिकेट विश्व कप में “मैन ऑफ द टूर्नामेंट” और “मैन ऑफ द मैच” पुरस्कार विजेताओं की सूची