Search

आखिर क्यों ज़रूरी है बोर्ड परीक्षा में वर्ड लिमिट को फॉलो करना? जानें कुछ महत्वपूर्ण बातें

इस लेख में आप जानेंगे किस प्रकार बोर्ड परीक्षा में निर्धारित शब्द सीमा के अनुसार परीक्षा लिखने पर आपको मिल सकते हैं पूरे अंकl आप जानेंगे क्यों एग्जामिनर छोटे व सटीक उत्तरों को देते हैं महत्त्वl इसके आलावा यहाँ जानें वर्ड लिमिट के मुताबिक कैसे लिखें उत्तरl

Jan 21, 2020 13:00 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Importance of word limit in board exams
Importance of word limit in board exams

प्रश्न: क्या बोर्ड परीक्षा में सभी प्रश्नों के लिए लिर्धरित की गई शब्द सीमा का पालन करने का कोई महत्त्व है?

उत्तर: जी हाँ, बोर्ड परीक्षा में हर प्रश्न के लिए शब्द सीमा निर्धारित करने के पीछे एक ख़ास कारण रहता हैl वो कारण यह है कि विद्यार्थी किसी प्रश्न का उत्तर बिलकुल सही व सटीक शब्दों में लिखें ना कि व्यर्थ की कहानियां लिखते हुए उत्तर को पूरे लेख का ही रूप दे देंl

हर विद्यार्थी को सुझावित वर्ड लिमिट को ध्यान में रखते हुए ही अपना उत्तर लिखना चाहिए लेकिन इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है कि आप 50 शब्द की वर्ड लिमिट के लिए पूरे 50 शब्द ही गिनकर लोखेंगेl आप अपनी नॉलेज का प्रदर्शन करने के लिए एक-दो लाइन ज़्यादा भी लिख सकते हो जिससे आपके उत्तर को वजन मिले और एग्जामिनर पे अच्छा प्रभाव पड़े.l पर यदि उन एक्स्ट्रा लाइन्स में अपने कोई महत्वपूर्ण जानकारी नहीं बल्कि व्यर्थ की चीज़ें लिखी हैं जो कि पूछे गए प्रश्न के मुताबिक उचित नहीं हैं, तो ऐसे ये कुछ एक्स्ट्रा शब्द एग्जामिनर को परेशन कर सकते हैं जिससे शायद आपके कुछ अंक भी कट सकते हैंl यही स्थिति आपके द्वारा निर्धारित से कम शब्द लिखने पर भी दिहरा सकती है क्योंकि हो सकता है कि कम शब्दों में प्रश्न में पूछे गए सभी पक्ष शामिल ना होंl

जाने बोर्ड एग्जाम में हैंड राइटिंग का क्या है महत्त्व और क्या हैं इसको सुधारने के तरीके

बहुत से विद्यार्थियों की उत्तर पत्रिकाएं चेक करते हुए एग्जामिनर हमेशा महत्वपूर्ण व प्रमुख शब्दों को तालाश करते हैं जिसके लिए वे परीक्षार्थी को अंक दे सकेंl इसलिए बड़े-बड़े उत्तर लिखने से सिर्फ़ समय की ही बर्बादी होगी और इससे एग्जामिनर पे आपका प्रभाव भी अच्छा नहीं पड़ता जिससे मार्क्स काटने की संभावना बनी रहती हैl निर्धारित शब्द सीमा से दो-चार लाइन्स ऊपर नीचे होने से ख़ास फ़र्क नहीं पड़ता अगर आपका उत्तर सटीक हैl सीबीएसई बोर्ड द्वारा अपने अध्यापकों के लिए निर्देशित गाइडलाइन्स में ऐसा कोई नियम नहीं है कि विद्यार्थी द्वारा वर्ड लिमिट क्रॉस करने पर उसके मार्क्स काटे जाएंl सबसे ज़रूरी चीज़ जिसपे ज़ोर दिया गया है वो है कि उत्तर बिलकुल संक्षिप्त, लॉजिकल व अच्छे से ऑर्गनाइज़ड होl

इन सबके अलावा, शब्द-सीमा के मुताबिक उत्तर लिखने का यह भी महत्त्व है कि आप परीक्षा के लिए निर्धारित समय सीमा के भीतर सभी प्रश्नों के उत्तर लिख सकेंl क्योंकि हर एक्स्ट्रा लाइन लिखने में अधिक समय लगेगा जिससे बाकि प्रश्नों के लिए ज़रूरी समय नहीं बचेगा और आप उन महत्वपूर्ण अंकों को खो बैठोगेl

तो प्यारे विद्यार्थियों, आने वाली बोर्ड परीक्षा में बेहतरीन परिणाम पाने के लिए परीक्षा लिखते समय टाइम व वर्ड लिमिट का ख़ास ख्याल रखनाl

बोर्ड परीक्षा के दो महीने पहले कैसा हो आपका रूटीन, यहाँ जाने कुछ ख़ास टिप्स

बोर्ड परीक्षा में लाना चाहते हैं अच्छे अंक? तो रिविजन के साथ-साथ इन टिप्स को अपनाना होगा ज़रूरी

बोर्ड परीक्षा के दौरान टाइम मैनेज करने के कुछ सरल मंत्र

Related Stories