Search

एसबीआई पीओ और आईसीआईसीआई बैंक पीओ: कौन सी जॉब बेहतर है?

पब्लिक और प्राइवेट बैंकों में प्रोबेशनरी अधिकारी के तौर पर काम करने वालों को मिलने वाले वेतन और भत्तों में काफी अतंर है l पीओ के पद के लिए वेतन के साथ मिलने वाले भत्ते ज्यादातर पब्लिक बैंकों के लिए कुल वेतन में अंतर पैदा करते हैं। 

Nov 7, 2017 18:55 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Comparison between SBI PO and ICICI Bank PO!
Comparison between SBI PO and ICICI Bank PO!

आज-कल अधिकतर लोगो की यह अवधारणा है कि प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों को पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों की तुलना में बहुत अच्छा वेतन मिलता है l वेतन संरचना में इस बड़े अंतर की वजह प्राइवेट सेक्टर में कार्यस्थल पर काम करने के अनिर्धारित घंटे और अधिक कार्यभार है l लेकिन भारत में अग्रणी प्राइवेट बैंकों और प्रतिष्ठित पब्लिक क्षेत्र बैंकों के पीओ के वेतन संरचना के मामले में यह सच नहीं है l पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर के बैंकों में बतौर प्रोबेशनरी ऑफिसर काम करने वाले उम्मीदवारों को मिलने वाले वेतन के साथ– साथ अन्य भत्तों में काफी अंतर है l पीओ पद के लिए वेतन के साथ भत्ते ज्यादातर पब्लिक क्षेत्र बैंकों के लिए कुल वेतन में अंतर पैदा कर देते हैं l  ऐसे में जबकि एसबीआई अपने प्रोबेशनरी अधिकारियों को सबसे अधिक वेतन पैकेज देती है अन्य पब्लिक सेक्टर बैंक भी अपने पीओ को काफी अच्छा वेतन देते हैं l पब्लिक सेक्टर बैंक के मासिक और वार्षिक वेतन का औसत आईसीआईसीआई जैसे अग्रणी प्राइवेट बैंक में पीओ के तौर पर काम करने वाले व्यक्ति से बहुत अधिक है l   

SBI का परफॉरमेंस अप्रेजल सिस्टम

एसबीआई पीओ को मिलने वाला वेतन और भत्ते

बैंकिंग सेक्टर द्वारा स्वीकार किए गए 10वें द्विपक्षीय समझौते के बाद प्रोबेशनरी (परिवीक्षाधीन) ऑफिसर का वेतन काफी अधिक हो गया है l एसबीआई पीओ का वेतन 8 लाख रुपये सालाना तक पहुंच गया है l अन्य पब्लिक सेक्टर बैंकों में पीओ के तौर पर शामिल होने वालों को सालाना 5 से 5.5 लाख रुपये के बीच वेतन मिलता है l  हालांकि पीओ के पद के लिए बेसिक वेतन बहुत कम लग सकता है लेकिन इससे जुड़े लाभ और भत्ते इसे वाकई आकर्षक बना देते हैं l बैंक द्वारा माह विशेष में अधिकारियों को दिए जाने वाले सभी लाभों और भत्तों को वेतन और कंपनी के लागत के तहत विचार किया जाता है l   एक मेट्रो सिटी में नियुक्त किसी भी एसबीआई पीओ को, बेसिक वेतन और महंगाई भत्ता मिल कर 30462/- रु. हो जाता है l पीएफ और पेंशन स्कीम प्रति माह 4673/- रु. का होता है l परिवहन, मनोरंजन, लीव ट्रैवल अलाउंस, कैंटीन, मेडिकल आदि जैसी अन्य सुविधाएं प्रति माह वेतन में 4130/– रु .का इजाफा करती हैं l मेट्रो शहरों में रहने वाले उम्मीदवारों को प्रति माह 29500/- रु. का हाउसिंग लीज रेंटल मिलता है, जिसके कारण वेतन करीब 69000/– रुपये प्रति माह का हो जाता है l पब्लिक सेक्टर के अन्य बैंकों के लिए मासिक वेतन 40 से 43 हजार रुपये प्रति माह के बीच होता है l 

भारतीय बैंकिंग प्रणाली का संक्षिप्त इतिहास

आईसीआईसीआई पीओ के लिए वेतन और भत्ते

आईसीआईसीआई देश में फिलहाल सर्वोच्च रैंक वाला प्राइवेट बैंक है जिसमें कई उम्मीदवार अपना करिअर बनाना चाहते हैं l वे अपने रिज्यूमे को सशक्त बनाने के लिए बैंक में काम करना चाहते हैं और इंडस्ट्री के सर्वश्रेष्ठ प्राइवेट सेक्टर बैंकिंग की बारीकियों को सीखना चाहते हैं l आईसीआईसीआई बैंक का वेतन संरचना एसबीआई जैसे पब्लिक सेक्टर के बैंकों के मुकाबले बहुत कम है l प्रवेश स्तर वाले क्लर्कों और प्रोबेशनरी ऑफिसरों का वेतन इन्हीं पदों पर एसबीआई जैसे बैंकों में काम करने वाले उम्मीदवारों को मिलने वाले वेतन से लगभग आधा है l हालांकि, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक जैसे प्राइवेट बैंक के उच्च अधिकारियों को पब्लिक सेक्टर बैंकों के मुकाबले बहुत अधिक वेतन मिलता है l   आईसीआईसीआई बैंक के उम्मीदवार को ज्वाइन करने के समय प्रोबेशनरी ऑफिसर के वेतन के तौर पर 34561/- रु. मासिक मिलते हैं l इसमें सभी भत्ते और लाभ शामिल होते हैं l सालाना आमदनी 4 लाख रुपयों से थोड़ी अधिक होती है जो पिछले वर्ष पीओ पद के लिए अपने अधिकारियों को एसबीआई द्वारा दिए गए वेतन का लगभग आधा है l आईसीआईसीआई पीओ पद के मासिक वेतन का ब्रेकअप नीचे दिया जा रहा हैः

  • बेसिक पे (मूल वेतन): 11000/- रु. प्रति माह
  • मकान का किराया भत्ताः 5000/- रु.   
  • परिवहन भत्ताः 2500/- रु.   
  • पेंशन भत्ताः 1650/- रु.   
  • लीव ट्रैवल अलाउंसः 2000/- रु.
  • अतिरिक्त एचआरए भत्ताः 3125/- रु.   
  • कैंटीनः 1300/- रु.   
  • मेडिकलः 1250/- रु.   
  • पीएफ और ग्रैच्युटीः 2236/- रु.   
  • प्रदर्शन वेतनः  45000/- रु.   

निष्कर्ष

वेतन संरचना हमेशा वह नहीं होती जो उम्मीदवार को हाथों में मिलती है, लेकिन यह कंपनी की कुल लागत होती है l किसी भी कर्मचारी के वेतन का बहुत बड़ा हिस्सा होते हैं लाभ और भत्ते और इसलिए पब्लिक सेक्टर के पीओ अपने प्राइवेट समकक्षों की तुलना में काफी अधिक वेतन पाते हैं l हालांकि, आईसीआईसीआई जैसे प्राइवेट बैंक अपने उच्च अधिकारियों को काफी अधिक वेतन देते हैं, लेकिन पीओ और क्लर्क जैसे अधिकारियों को बहुत कम वेतन देने की उनकी प्रवृत्ति रही है l   

भारतीय बैंकिंग क्षेत्र में अगला बड़ा नाम हो सकते हैं विरल आचार्य

आरबीआई असिस्टेंट: वेतन, भत्ते व अन्य सुविधाएं

एसबीआई में नौकरी करते समय विदेशी प्लेसमेंट की संभावनाएं

Related Categories

    Related Stories